पंचतन्त्र की कहानी-बन्दर और मगरमच्छ

एक नदी के किनारे एक बहुत ही बड़ा और घना जामुन का पेड़ था। उस पेड़ पर इतने मीठे जामुन लगते थे कि एक बन्दर उसी पेड़ पर रहने लगा। दिन भर नदी के किनारे मस्ती करता और मीठे जामुन खा अपना पेट भरता।  एक दिन एक मगरमच्छ तैरता हुआ आया […]

» Read more

पंचतन्त्र की कहानी-राजा और मूर्ख बन्दर 

एक सम्पन राज्य का राजा था जिसको एक बन्दर से गहरा लगाव था। उस राजा ने उस बन्दर को अपना प्रधान सेवक नियुक्त किया। अब बन्दर हर सभा या किसी भी कार्यक्रम में राजा के साथ जाने लगा।  क्योंकि वो राजा का करीबी माना जाता था इस लिए उसके महल में आने जाने […]

» Read more