दो भाइयों की कहानी

सड़क दुर्घटना में माता-पिता की मृत्यु के बाद मोहन और सोहन अनाथ हो गए। न कोई भाई-बहिन या रिश्तेदार था जिन्हे दोनों अपना कह सकते। सिर्फ एक दुसरे का सहारा ही बचा था। मोहल्ले के लोग तो थे लेकिन वह तो सिर्फ सुख-दुःख में ही काम आ सकते थे मगर उनके […]

» Read more

Hindi Stories for Kids – शरारत करो, नुक्सान नहीं

  शिवानी एक बहुत ही शरारती लड़की थी। घर हो या स्कूल, सबको परेशान करना उसका रोज़ का काम था।      घर में माँ बोलती नहा लो, तो खेलने भाग जाती। माँ कहती खाना खा लो तो हाथ में किताब ले पलंग के नीचे चुप जाती। स्कूल में टीचर कहे […]

» Read more

चिड़िया का साहस – An inspiring story for kids

बच्चों ये एक चिड़िया की कहानी है जिसने अपने सहस और बुद्धिमानी से छोटे बड़े सब जानवरों और पक्षियों को इकठ्ठा कर एक भयंकर दुविधा का सामना किया।    एक बड़े से घने जंगल में आग लग गयी तो सभी जानवर भागने लगे। पूरे जंगल में हरबड़ी सी मच गयी। सब […]

» Read more

सचाई ख़ुशी देती है – Moral story with message

  विक्की बहुत खुश था। क्योंकि कल उसके स्कूल में स्वतंत्रता दिवस का समारोह था। स्कूल को अच्छी तरह से रंग बिरंगी झंडियों से सजाया जाएगा। प्रधानाचार्य हमारा प्यारा तिरंगा फेहराएँगें और फिर रंगा रंग एक कार्यक्रम भी होगा।  इसी उत्साह से जब वह घर पहुँचा तो उसके होश उड़ गए। पिताजी के सीने […]

» Read more

पंचतन्त्र की कहानी-बन्दर और मगरमच्छ

एक नदी के किनारे एक बहुत ही बड़ा और घना जामुन का पेड़ था। उस पेड़ पर इतने मीठे जामुन लगते थे कि एक बन्दर उसी पेड़ पर रहने लगा। दिन भर नदी के किनारे मस्ती करता और मीठे जामुन खा अपना पेट भरता।  एक दिन एक मगरमच्छ तैरता हुआ आया […]

» Read more

पंचतन्त्र की कहानी-लालची कबूतर

जंगल में एक बहुत बड़ा पेड़ था। उस पर दिन भर पक्षी बैठा करते थे। सारा दिन उन पक्षियों की चहक और मस्ती रहती थी। उस पक्षियों के झुंड में एक कबूतरों का झुंड भी था ये देख एक पक्षियों के व्यापारी ने उन कबूतरों को पकड़ने की योजना बनाई। एक […]

» Read more

पंचतन्त्र की कहानी-राजा और मूर्ख बन्दर 

एक सम्पन राज्य का राजा था जिसको एक बन्दर से गहरा लगाव था। उस राजा ने उस बन्दर को अपना प्रधान सेवक नियुक्त किया। अब बन्दर हर सभा या किसी भी कार्यक्रम में राजा के साथ जाने लगा।  क्योंकि वो राजा का करीबी माना जाता था इस लिए उसके महल में आने जाने […]

» Read more

गाय का बटवारा – Moral story

  गाँव में एक किसान अपने परिवार के साथ रहता था। उसके दो बेटे थे। एक का नाम राधे और दूसरे का श्याम।      परिवार की सारी पूँजी थी एक गाय जिसका दूध बेच कर जो कुछ कमाते बस उसी में गुजरा कर लेते थे। कोई खेत खलिआन तो था नहीं।  […]

» Read more

छोटी छोटी बातें – शिष्टाचार-Etiquette

बच्चो ! आओ तुम्हे एक ज्ञान की बात बताएँ। ये वो ज्ञान है जो तुम्हे जीवन भर याद रहेगा।      कभी आपने सोचा है कि दो लोग जब आपस में लड़ते हैं तो एक दूसरे पर जोर जोर से चिल्लाते क्यों हैं। जबकि दोनों आमने सामने सिर्फ एक फुट की दूरी […]

» Read more

रोहित ने चोर पकड़ा – Social Responsibility

  रोहित ने चोर पकड़ा रोहित जब घर पहुँचा तो देखा कि बाहर खड़े टेम्पो में काफी सामान लदा था, सोफा, फ्रिज, टीवी, कपड़े और ना जाने क्या क्या। उसने सोचा शायद कोई नया किराएदार आ रहा है या कोई पुराना घर खाली कर रहा है।      तभी एक अनजान आदमी 2-3 […]

» Read more
1 2 3