छोटी छोटी बातें – शिष्टाचार-Etiquette

बच्चो ! आओ तुम्हे एक ज्ञान की बात बताएँ। ये वो ज्ञान है जो तुम्हे जीवन भर याद रहेगा। 
 

 
कभी आपने सोचा है कि दो लोग जब आपस में लड़ते हैं तो एक दूसरे पर जोर जोर से चिल्लाते क्यों हैं। जबकि दोनों आमने सामने सिर्फ एक फुट की दूरी पर होते है। लेकिन इतना क्रोधित हो ऐसे जोर से बोलते हैं मानो एक दूसरे से मीलों दूर खड़े हों। 
 

 
ऐसा इस लिए होता है क्योंकि दोनों के दिलों में दूरियाँ इतनी बढ़ गयी होती है कि उन्हें लगता है जोर से बात करने से शायद उनकी बात दूसरे के दिल तक पहुँच जाए। दूसरे के दिल को दुखाने के लिए कई अपशब्दों का प्रयोग भी किया जाता है। 
 

 
अब सोचो जब दो दोस्त आपस में बात करते है तो उनका स्वर कितना धीमा और मीठा होता है। उन्हें चिल्लाने की ज़रुरत नहीं पड़ती क्योंकि उनके दिल में कोई दूरी या मलाल नहीं होता। जब दिल मिले हों तो कभी कभी बात तक करने की ज़रुरत नहीं पड़ती। एक दूसरे की बात इशारों में ही समझ लेते हैं। 
 

 
बस, इसी बात को गाँठ में बाँध लो। कभी किसी से ऊँचे स्वर में बात ना करो, कभी किसी को अपशब्द ना बोलो, ऐसी बात मत बोलो जिससे दिलों की दूरियाँ बढे। 

Also Read:

 



Your comments encourage us

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.