गुरु नानक देव प्रकाशोत्सव

यह पर्व सिख धर्म के संस्थापक श्री गुरु नानक देव जी की जयंती के रूप में मनाया जाता है। जैसे दिवाली को रोशनी का पर्व माना जाता है, उसी तरह सिख पंत के करोड़ों अनुयायी श्री गुरु नानक देव जी के जन्मदिन को प्रकाशोत्सव या गुरपुरब या गुरु नानक जयंती के नाम से मानाते […]

» Read more

भाई दूज – Bhai Dooj

भाई दूज का यह त्यौहार कार्तिक के महीने में शुक्ला पक्ष के दूसरे दिन मनाया जाता है। भाई दूज आमतौर पर दिवाली के दो दिन बाद पड़ता है।  इस दिन, दोनों भाई और बहन सुबह-सुबह स्नान कर तैयार हो जाते हैं। बहनें अपने भाईओं के मस्तिक्ष पर तिलक लगा कर उनके लंबे जीवन, स्वास्थ्य, धन […]

» Read more

छठ पूजा-Chath Puja

   छठ पूजा एक महत्वपूर्ण हिंदू त्यौहार है। यह पूजा सूर्य भगवान और उनकी पत्नी उषा को समर्पित है। यह त्यौहार ऊर्जा के देवता सूर्य देवता, डला  छठ और छत मैया के सम्मान में मनाया जाता है। सूर्य देवता को उनकी सुरक्षा के लिए धन्यवाद देने और उनसे अच्छे स्वास्थ्य और […]

» Read more

दिवाली – Diwali

दिवाली हिंदुओं का सबसे महत्वपूर्ण धार्मिक त्यौहार है। दिवाली, जिसे दीपावली के नाम से भी जाना जाता है, को रोशनी के त्यौहार के रूप में भी जाना जाता है। आध्यात्मिक रूप से यह त्यौहार अंधेरे पर प्रकाश की जीत, अज्ञानता पर ज्ञान की जीत, बुराई पर अच्छाई और निराशा पर आशा की जीत दर्शाता है।  […]

» Read more

धनतेरस – Dhanteras

धनतेरस धनतेरस पूरे भारत और दुनिया भर में फैले हिंदुओं द्वारा मनाया जाता है। यह आम तौर पर अक्टूबर-नवंबर के बीच आता है और दिवाली के पांच दिवसीय समारोहों की शुरुआत करता है। विष्णु के अवतार धनवंतरी के सम्मान में यह दिवाली से दो दिन पहले मनाया जाता है। “धन” का अर्थ […]

» Read more

करवा चौथ व्रत और कथा-Karwa Chauth Vrat and Story

करवा चौथ   करवा चौथ विशेष रूप से उत्तर भारत में हिंदू महिलाओं के बीच बहुत लोकप्रिय और महत्वपूर्ण दिन है। करवा चौथ मुख्य रूप से राजस्थान, उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, मध्य प्रदेश और हिमाचल प्रदेश राज्यों में मनाया जाता है। लेकिन कुछ समय से गुजरात राज्य, पश्चिम बंगाल और बिहार राज्य […]

» Read more

Festivals of India

   भारत में हिंदू, मुस्लिम, सिख, जैन, ईसाई और आदि जैसे विभिन्न धर्मों के लोग रहते हैं। दुनिया भर में कई सभ्यताओं और धर्मों का एक धर्मनिरपेक्ष देश होने के लिए प्रसिद्ध है। यह देश धर्मों, भाषाओं, संस्कृतियों और जातियों में विविधता से भरा हुआ है इसलिए प्रत्येक पर्व को रीति रिवाज, मान्यताओं और इसके इतिहास के […]

» Read more