घमंडी का पतन

घनश्याम स्वर्णकार के हाथ में एक जादुई कला थी। उसकी कला देख ऐसा लगता था मानो, इंसान ने नहीं किसी मायावी शक्ति ने अपना कौशल दिखाया हो। जिस भी सोने के टुकड़े को हाथ में लेता उस पर ऐसी कलाकारी करता कि देखने वाला मन्त्र मुग्ध हो बस उस जेवर […]

» Read more

स्कूल का हीरो

प्रिंसिपल साहब ने चपरासी से कहा ” फ़ौरन जाओ और सुधीर को बुला लाओ। अगर टीचर कुछ कहे तो कह देना मैंने बुलाया है। ”  असल में उन्हें अभी पता चला था कि शिक्षा विभाग ने इस साल राजकीय खेल प्रतियोगता उनके स्कूल में करने का फैसला लिया था। स्कूल के […]

» Read more

सोने की चेन -Hindi Story for Kids

सुधाकर अपने पिता, भाई सुरेश और भाभी कंचन के साथ रहता था। माँ का देहांत कुछ साल पहले हो चूका था और पिता रिटायर थे। भाई एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करता था। भाभी घर पर ही रहती थी और घर का सब काम खुद ही करती थी। सब खुश ही थे […]

» Read more

मेहनत का रंग – Hindi Story for Kids

व्यापारी की बेटी बड़ी हो चुकी थी। उसकी शादी को लेकर व्यापारी और उसकी पत्नी हमेशा चिंतित रहते थे। शादी ब्याह में खर्चा भी बहुत होना था, इसलिए व्यापारी पहले सी भी ज्यादा मेहनत करता था।  एक दिन व्यापारी को सामान खरीदने दुसरे शहर जाना था। सफर पर निकलने से पहले उसने अपनी बेटी से […]

» Read more

नकलची कौवा-Hindi Stories for Kids

खाने की तलाश में कौवा दिन भर इधर-उधर भटकता रहता।  पेड़ से गिरे फल उठा कर खाना तो बस पेट भरना ही था। लेकिन उसके मन की भूख शांत न होती। उसे तो चाहिए था किसी छोटे जानवर का गोश्त।  हफ़्तों भटकने के बाद कभी उसे किसी मरे हुए जानवर का गोश्त […]

» Read more

चलो श्री गणेश करते हैं-Ganpati Bappa Morya

ॐ गणेशाय नमः  हिंदी मान्यताओं के आधार पर यह बताया गया है कि कैसे गणेश जी को गणपति कहा गया।  एक दिन देवी पार्वती को स्नान करना था। उस समय आसपास कोई दासी नहीं दिखी जिसको वह द्वार पर खड़े रहने को कह सकती। तब उनके मन में एक विचार आया और […]

» Read more

दो भाइयों की कहानी

सड़क दुर्घटना में माता-पिता की मृत्यु के बाद मोहन और सोहन अनाथ हो गए। न कोई भाई-बहिन या रिश्तेदार था जिन्हे दोनों अपना कह सकते। सिर्फ एक दुसरे का सहारा ही बचा था। मोहल्ले के लोग तो थे लेकिन वह तो सिर्फ सुख-दुःख में ही काम आ सकते थे मगर उनके […]

» Read more

डर को निकाल फेंको- Self Confidence

याद है कैसे शोले फिल्म के गब्बर सिंह से सारा रामगढ़ गाँव डरता था।  कभी सोचा है की ये डर क्या है। ये डर उस चिड़िया का नाम है जो चाहते हुए भी उड़ती नहीं, हमेशा डरती रहती है कि कहीं उड़ते उड़ते गिर ना जाए। कुछ लोग अपने मन में एक डर […]

» Read more

काम में मस्ती-Personality development

मान लिया जाए कि आप बहुत ही समझदार हैं, लेकिन दूसरों को बेवकूफ समझना कहाँ की अक्लमंदी है। चालाकी करना और फिर अपनी पीठ थपथपाना, कि मोर्चा मार लिया, को मैं सिर्फ पल भर की ख़ुशी से ज्यादा कुछ नहीं समझता।  मेरे इस तर्क को समझने के लिए नीचे लिखी इस कहानी […]

» Read more

पत्नी और बेटी में फ़र्क़-Personality Development

हर छोटी-बड़ी घटना जीवन के किसी न किसी पहलु से जुड़ी होती है। आपका हर कदम, मुँह से निकला शब्द, दूसरों के प्रति व्यवहार इतियादी सब कुछ तो आपकी personality दर्शाता है। Personality कोई कमीज तो है नहीं जो कभी भी बदली जा सकती है बल्कि यह वो हमारा व्यक्तिगत […]

» Read more
1 2 3 27