हिंदी मुहावरे – Hindi Muhavare – म

“म” से शुरु होने वाले हिंदी मुहावरे
Hindi Muhavare (Proverbs) starting with “म”

 

मन बैठना – घबरा जाना –
पति देर तक घर न पहुंचे तो अक्सर पत्नी का मन बैठ जाता है। 
मुँह में पानी आना – ललचाना –
समोसों की खुशबू से मेरे मुँह में पानी भर आया। 
मुसीबतों का पहाड़ टूटना – मुसीबत आना –
घर में अकेले कमानें वाले की मृत्यु के बाद परिवार पर मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा। 
माथा ठनकना – कुछ गलत होने की शंका –
पुलिस को अपने घर के बाहर खड़ा देख मेरा माथा ठनक गया। 
मक्खियाँ मारना – कामचोर होना –
सारा दिन उसने कोई काम नहीं किया बस मक्खियाँ हो मारता रहा। 
मजा किरकिरा होना – आनंद में रूकावट आना –
हम सब पिकनिक मनाने गए तो वहां बारिश ने सारा मजा ही किरकिरा कर दिया। 
मिटटी का माधो – मूर्ख इंसान –
सारी कक्षा पढ़ने में व्यस्त थी मगर सुखपाल मिटटी का माधो बना बैठा रहा। 
मिटटी के मोल बिकना – सस्ता बिकना –
इस बार गर्मी कम पड़ी तो कूलर मिटटी के मोल बिकने लगे। 
माथा चूमना – प्यार करना –
गाँव में पहला ग्रेजुएट बनने पर सब बुजुर्गों ने मेरा माथा चूमा। 
मुँह फुलाना – नाराज होना –
मम्मी ने उधम मचाने पर बच्चे को टोका तो वह मुँह फुला कर बैठ गया। 
मुँह तोड़ जवाब देना – बदला लेना –
सर्जिकल स्ट्राइक कर भारतीय सैनिकों ने पकिस्तान को मुँह तोड़ जवाब दिया। 
मंत्र मुग्ध होना – प्रभावित होना –
5 साल के बच्चे से गाना सुन में मंत्र मुग्ध हो गया। 
मिटटी खराब करना – बुरी हालत करना –
पैसों की तंगी की वजह से जीवन के आखिरी पड़ाव में बुजुर्गों की मिटटी खराब हो जाती है। 
मैदान मार लेना – जीत जाना –
कुश्ती के मुकाबले में भारत की खिलाड़ी ने पटखनी दे मैदान मार लिया। 

Also Read:


Your comments encourage us

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.