हिंदी मुहावरे – Hindi Muhavare – ध

“ध” से शुरु होने वाले हिंदी मुहावरे
Hindi Muhavare (Proverbs) starting with “ध”

 

धज्जियाँ उड़ाना – आलोचना करना –
सबूत मिलते ही बचाव पक्ष के वकील ने झूठे केस की धज्जियाँ उड़ा दी। 
धूल फाँकना – बेकार इधर-उधर घूमना –
जगह जगह की धूल फाँकने से तो अच्छा है एक जगह मन लगा कर व्यापार करो। 
धाक ज़माना – प्रभावित करना –
मैच में चार गोल कर सोमेश ने कॉलेज में अपनी धाक जमा दी। 
धरती पर पॉंव न पड़ना – घमंड में रहना –
बेटा अमरीका क्या गया शर्माजी के पाँव तो धरती पर नहीं पड़ते। 
धूल चाटना – हार जाना –
बेशर्मी की हद तो देखो, पाकिस्तान इतनी बार धूल चाट चूका है फिर भी लड़ने से बाज नहीं आता। 
धूल चटाना – हरा देना –
बैडमिंटन के फाइनल मैच में साइना नेहवाल ने संधु को धूल चटा दी। 
धूल माथे पर लगाना – सम्मान करना –
कुश्ती में पहलवान अखाड़े की धूल माथे पर लगा अखाड़े का आशीर्वाद लेते हैं। 
धूल में मिला देना – उजाड़ देना –
गरीबी ने आगे पढ़ने के मेरे सारे सपने धूल में मिला दिए। 

>>>>>>>>>>>>>>>>>>>> Go back to Index of Muhavare >>>>>>>>

 

Also Read:


Your comments encourage us