हिंदी मुहावरे – Hindi Muhavare – छ

“छ” से शुरु होने वाले हिंदी मुहावरे
Hindi Muhavare (Proverbs) starting with “छ”
छक्के छुड़ाना – बुरी तरह हराना –
सबके छक्के छुड़ा कर हमने प्रतियोगिता जीत ली।
छाती पर साँप लोटना – जलन होना –
शर्मा जी की नयी कार खरीदते ही पड़ोसियों की छाती पर साँप लोटने लगे।
छप्पर फाड़ कर देना – कोशिश बिना बहुत मिलना –
भगवान जब कृपा करता है तो छप्पर फाड़ कर देता है।
छठी का दूध याद आना – बहुत मुसीबत में पड़ना –
गाँव वालों ने जूता चोर को पकड़ इतना पीटा कि उसे छठी का दूध याद आ गया।
छाती पर मूँग दलना – किसी को दुःख देना –
अपनी दौलत की नुमाईश कर सुरेश ने अपने गरीब मित्र राजा की छाती पर मूँग डालने का काम किया।
छाती पर पत्थर रखना – विपत्ति में दिल कठोर करना –
युद्ध में पुत्र के शहीद होने पर पिता ने छाती पर पत्थर रख लिया।
छोटा मुँह बड़ी बात – अपनी हैसियत से बढ़कर बोलना –
आजकल लोगों को छोटा मुँह बड़ी बात करने की आदत सी हो गयी है।
छुपा रुस्तम – देखने में मामूली पर प्रतिभाशाली –
किसी को सवाल का जवाब नहीं आता था लेकिन छुपे रुस्तम संदीप ने उसे आसानी से हल कर दिया।

>>>>>>>>>>>>>>>>>>>> Go back to Index of Muhavare >>>>>>>>

 

Also Read:


Your comments encourage us