हिंदी मुहावरे – Hindi Muhavare – ख

“ख” से शुरु होने वाले हिंदी मुहावरे
Hindi Muhavare (Proverbs) starting with “ख”

 

खाक छानना – इधर उधर भटकना –

अच्छे अंक न मिलने पर कुनाल को  तलाश में खाक छाननी पड़ रही है।

 

ख्याली पुलाव पकाना – काल्पनिक योजना बनाना –

ख्याली पुलाव पकाना छोड़ अपना समय कुछ ठोस करने में लगाओ।

 

खालाजी का घर – आसान काम –

फिल्मों में काम मिलना कोई खालाजी का घर नहीं।

 

खटाई में पड़ना – कुछ फैसला न हो पाना –

अफसरों के छुट्टी पर चले जाने से कई काम खटाई में पड़ जाते हैं।

 

खून का घूँट पीकर रह जाना – क्रोध सहन करना –

विवेक ने मेरी बेइज्जती की मगर मैंने खून का घूँट पीकर कोई जवाब नहीं दिया।

 

खरी खोटी सुनाना – बुरी बात करना –

महीनों से वेतन ना मिलने पर काका ने अपने मालिक को खरी खोटी सुना दी।

 

खाक में मिलाना – बर्बाद करना –

इतिहास को खाक में मिलाना आसान नहीं।

 

खुली चुनौती देना – सामना करना –  

एक नेता ने दुसरे नेता को मंच पर बहस करने की खुली चुनौती दी।

 

खून पसीना एक करना – कड़ी मेहनत करना –

चुनाव के वक़्त हर नेता अपना खून पसीना एक कर देता है।

 

खून का प्यासा होना – किसी को मारने पर उतारू –

दोस्ती में दरार पड़ते ही अक्सर एक दुसरे के खून के प्यासे हो जाते हैं।

 

खून खोलना – बहुत क्रोध करना –

जब भी जब भी में किसी को बेजुबान जानवर को पीटता देखता हुँ तो मेरा खून खौल।

 

खून सूखना – डर जाना –

सुनसान रास्ते पर चीख सुन मेरा खून सूख गया।

 

>>>>>>>>>>>>>>>>>>>> Go back to Index of Muhavare >>>>>>>>

 

Also Read:


Your comments encourage us