कुत्ते की वफादारी – Short Hindi Story for Kids

रात को खाना खा कर सब सो गए। लेकिन ब्रूजो, जो की घर का कुत्ता था, अभी भी जाग रहा था। 
चारों तरफ घाना अँधेरा और शान्ति थी। तभी ब्रूजो को खिड़की से किसी के अंदर कूदने की आवाज सुनाई पड़ी। 
वो भाग कर खिड़की के पास गया तो देखा वहाँ एक चोर खड़ा था। 
इससे पहले की ब्रूजो भौंकता चोर ने एक मीट का टुकड़ा ब्रूजो की तरफ फ़ेंक दिया। 
मीट का टुकड़ा देख ब्रूजो को समझ में आ गया कि उसे चुप रहने की रिशवत दी जा रही है। 
उसने मीट को अनदेखा कर चोर की तरफ देखा ही था कि चोर ने एक और टुकड़ा फ़ेंक दिया। 
ब्रूजो को समझते देर नहीं लगी कि रिशवत तो चोर और बेईमान लोग ही देते हैं। 
उसने जोर जोर से भौंकना शुर कर दिया और चोर पर छलांग लगा दी। 
 

बस फिर क्या था, आवाज सुन घर का मालिक उठ गया। 
लेकिन, इस से पहले की उसे पकड़ सकते वो खिड़की से कूद भाग गया। 
ये सब देख घर के मालिक ने ब्रूजो को गले लगा लिया और खूब प्यार किया। 
बच्चों! जो रिशवत देता है, उसकी नीयत कभी अच्छी नहीं होती। सावधान रहो। 

Also Read:


 


Your comments encourage us